Diwali 2022 का शुभ मुहूर्त और सूर्य ग्रहण कब से कब तक

 दिवाली पर बन रहा शुभ संयोग, जानिए शुभ मुहूर्त और लक्ष्मी-गणेश पूजन का समय 

इस साल दिवाली की तिथि को लेकर काफी असमंजस है। क्योंकि इस दिन साल का आखिरी सूर्य ग्रहण भी लग रहा है। जानिए किस दिन दिवाली का पर्व मनाना होगा शुभ साथ ही जानिए किन जगहों पर दिखाई देगा सूर्य ग्रहण  

Diwali हर साल कार्तिक माह में अमावस्या को मनाया जाता है। पूरे भारत में इस त्यौहार का अलग ही हर्ष और उल्लास देखने को मिलता है। इस दिन पूरा देश दीये को रोशनी से चमक उठता है।

14 वर्ष का वनवास पूरा करने के बाद भगवान राम के अयोध्या लौटने की खुशी में लोगों ने पूरे अयोध्या को दीयों को रोशनी से सजा दिया था। यह Diwali का त्यौहार तभी मनाया जाता है 

इस बार कार्तिक माह की अमावस्या 24 और 25 अक्टूबर दोनों दिन पड़ रही है। लेकिन 25 अक्टूबर को अमावस्या तिथि प्रदोष काल से पहले ही समाप्त हो रही है। वहीं 24 अक्टूबर को प्रदोष काल में अमावस्या तिथि होगी।

Diwali पर शुभ मुहूर्त में लक्ष्मी-गणेश की करनी चाहिए। पहले कलश को तिलक लगाकर पूजा आरम्भ करें। इसके बाद अपने हाथ में फूल और चावल लेकर मां लक्ष्मी और भगवान गणेश का ध्यान करें। 

24 अक्टूबर को शाम 5 बजकर 27 मिनट से शुरू होकर 25 अक्टूबर शाम 4 बजकर 18 मिनट तक रहेगा इस बीच आप सभी अपनी पूजा कर सकते हैं 

साल 2022 का आखिरी सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर के दिन पड़ रहा है। सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर को शाम 4 बजकर 29 मिनट से शुरू होकर 5 बजकर 42 मिनट तक रहेगा। भारत में दिखाई नहीं देने के कारण सूतक काल मान्य नहीं होगा।